बुधवार, 3 फ़रवरी 2010

निरोग रहने के कुछ उपयोगी सूत्र ---

कहा गया है ---"पहला सुख निरोगी काया" जब हम कुदरत से दूर हो जाते है तो अनेक प्रकार के रोगो से ग्रसित हो जाते है !खूबसूरती और उत्तम स्वास्थ तो कुदरत की देन है! कुदरती देखभाल करके ही हम ताउम्र निरोग रह सकते है! अच्छे स्वास्थ के लिये कुदरत को जाने व पहचाने!


  1. सुबह प्रतिदिन नंगे पैर घास मे चलने से नेत्र ज्योती बदती है व उच्च रक्तचाप की शिकायत नही रहती!
  2. एक कप पानी मे आधा चम्म्च सैधा नमक मिलाकर प्रतिदिन सोने से पहले कुल्ला करने से दांतो के हर प्रकार के रोगो से बचाव होता है !
  3. प्रतिदिन सुबह जल्दी उठे व रात को जल्दी सोने की आदत डाले !सुबह उठकर पहले कम से कम एक गिलास गुनगुना पानी पीये !
  4. पेट मे कब्ज होने पर दिन मे कई बार गरम पानी पीये व अपनी पिन्डलियो को दबाये; हमारी पिन्डलियो का सम्बन्ध सीधे हमारे पेट से है !
  5. शरीर का भार सन्तुलित करने के लिये अपनी अनामिका अंगुली के अग्र भाग को प्रतिदिन कम से कम बीस मिनट दबाकर एक्यूप्रेशर करे !
  6. प्रतिदिन सुबह उठकर अपने मुंह मे पानी भरकर दोनो हाथो से आखों को पानी से धोये ;आंखो की रोशनी तेज होगी ऐसा दिन मे तीन चार बार करे !
  7. यदि पैरो मे अधिक पसीना आता हो तो पहले पैरो को गरम पानी मे रखे ;फिर ठंडे पानी मे रखे और दोनो पैरो को आपस मे रगडे फिर बाहर निकालकर पोछ ले! एक सप्ताह तक लगातार ऐसा करने से बहुत लाभ होगा !

2 टिप्‍पणियां:

rajani ने कहा…

these tips are really good!!!!!!!!!!

rajani ने कहा…

Keep it Up!!!!!!!!!!